दिवाली 2023 में कब है? – जानिए तारीख और त्योहार के बारे में सबकुछ!

दिवाली 2023 में कब है: दिवाली, जिसे ‘दीपावली‘ भी कहते हैं, भारतीय उपमहाद्वीप में मनाया जाने वाला एक प्रमुख त्योहार है। यह त्योहार समृद्धि, सफलता, और खुशियों का प्रतीक है। हर साल दिवाली को धूमधाम से मनाया जाता है और इसकी तिथि अलग-अलग वर्षों में बदलती रहती है। इसलिए, इस लेख में हम आपको बताएंगे कि दिवाली 2023 में कब है और इस शुभ अवसर के बारे में विस्तृत जानकारी।

दिवाली क्यों मनाते है?

दिवाली का महत्व विभिन्न धार्मिक और सांस्कृतिक परंपराओं से जुड़ा हुआ है। हिन्दू धर्म में दीपावली भगवान राम के अयोध्या वापसी के अवसर के रूप में मनाई जाती है, जब उन्होंने रावण को मारकर अयोध्या को विजयी बनाया था।

इसके साथ ही, इस दिन गोवर्धन पूजा का आयोजन भी किया जाता है, जिससे गो-धुलि अवधि को याद किया जाता है। दीपावली का त्योहार सभी के लिए समान रूप से खास है और इसे खुशियों के साथ मनाया जाता है।

दिवाली का महत्व

दिवाली के त्यौहार में भगवान् गणेश और माता लक्ष्मी की पूजा की जाती है। दीपावली में माँ लक्ष्मी और भगवान् गणेश की पूजा का बड़ा महत्व है, क्योंकि धन की देवी माँ लक्ष्मी है और भगवान् गणेश विवेक एवं बुद्धि के दाता है। और धन का सही इस्तेमाल करने हेतु हमारे पास विवेक और समझदारी का होना बहुत आवश्यक है। इसलिए दिवाली में माँ लक्ष्मी और भगवान् गणेश जी की हम पूजा करते हैं।

दोस्तों, आजकल दिवाली सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि अमेरिका, इंग्लैंड, कनाडा और यूरोप कई अन्य देशों में भी बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है। क्योंकि जहां-जहां भारतीय बसे हैं, वहां-वहां इस त्यौहार में स्थानीय लोगों की रूचि अक्सर देखने को मिलती है।

अगर हम सोशल मीडिया की बात करें जैसे कि Facebook, Twitter या फिर Instagram देखें तो जो भी भारतीय दूसरे देशों में रहते हैं, उनके साथ वहां के स्थानीय लोग भारतीयों को दिवाली की बधाई जरूर देते हैं और उनके साथ वे भी दिवाली मनाते हुए सोशल मीडिया पर हमें नजर आते हैं। साथ ही साथ हमें YouTube पर भी कई अन्य देशों के भी वीडियोज भी देखने को मिलते हैं, जहां दिवाली मनाई जा रही हो। तो इस तरह से यह पवित्र त्यौहार आज पूरी दुनिया में मनाया जाता है।

जैसे कि हम सभी जानते हैं, दोस्तों, दिवाली के कुछ दिन पहले ही हम सभी अपने अपने घरों की सफाई करते हैं। दिवाली के दिनों में साफ सफाई रखने के कारण हमारे घर में माँ लक्ष्मी का वास रहता है। ऐसी माना जाता है कि दीपावली के दिन यानी कि कार्तिक अमावस्या की रात को माता लक्ष्मी स्वयं इस धरती लोक पर पधारती हैं और हर घर में प्रवेश करती हैं।

और इसी कारण दिवाली पर घर में हर कोने में दीपक जलाकर उजाला करते हैं। इससे मां लक्ष्मी प्रसन्न होकर वहीं वास करती है। इसीलिए आमतौर पर घरेलू महिलाएं दिवाली शुरू होने के 1 हफ्ते पहले ही सारी तैयारियां पहले से ही करके रखती हैं। साथ ही साथ दिवाली शुरू होने से पहले ही हम अपनी शॉपिंग भी पूरी करने की कोशिश करते हैं ताकि जब दिवाली की शुरुवात हो, तो हम अपने परिवार के साथ अपना कीमती समय बिता सकें।

दिवाली 2023 में कब है?

दिवाली कुल मिलाकर पांच दिनों का पर्व होता है। प्रथम दिन धनतेरस का माना जाता है। इस महत्वपूर्ण दिन भगवान कुबेरजी और भगवान् धन्वन्तरि जन्मे थे। ऐसा माना जाता है कि धनतेरस के दिन कुछ भी खरीदी करने से उसमें वृद्धि होती है। धनतेरस से लेकर भाईदूज तक यह त्यौहार चलता है।

दिवाली पर्व कार्तिक मास में अमावस्या के दिवस मनाते हैं क्योंकि भगवान श्रीराम ने रावण का वध करने के पश्चात जब चौदह वर्ष का वनवास समाप्त करने के बाद अयोध्या नगरी में वापस लौटे, तभी से सारे हिन्दू इस पावन त्यौहार को मनाते आ रहे हैं।

दिवाली का पहला दिन : 10 नवम्बर 2023 शुक्रवार को धनतेरस

दिवाली का दूसरा दिन : 11 नवम्बर 2023 शनिवार को नरक चतुर्दशी, काली चौदस और छोटी दिवाली,

दिवाली का तीसरा दिन : 12 नवम्बर 2023 रविवार को दिवाली

दिवाली का चौथा दिन : 14 नवम्बर 2023 मंगलवार को  गोवर्धन पूजा

दिवाली का पांचवा दिन : 15 नवम्बर 2023 बुधवार को  भाईदूज

दोस्तों, अगर आपको HindiAstra द्वारा दिवाली 2023 में कब है? पर लिखा गया यह ब्लॉग पसंद आता है तो इस ब्लॉग पर Comment जरूर कीजिए। अगर आपका कोई सुझाव है तो आप हमें अपने Comments द्वारा या Email द्वारा हमसे संपर्क कर सकते हैं।

नमस्ते, मेरा नाम अभिषेक है, और मैं एक वेब डेवलपर हूं। मेरा दिल तकनीक, वेब विकास, और नवाचार के प्रति बहुत गहरी प्रेमभावना से भरा हुआ है। मुझे प्रोग्रामिंग करने और खुद से चीजें बनाने में भी बड़ी रुचि है।

Leave a Comment