अक्षय कुमार का जीवन परिचय | Akshay Kumar Biography In Hindi

खिलाड़ी कुमार उर्फ अक्षय कुमार भारत के करोड़ों लोगो के दिलो पर राज़ करते हैं। यही कारण है अक्षय कुमार फिल्मी जगत में काफी लोकप्रिय हैं।

इस पोस्ट में हम अक्षय कुमार की जीवनी, पूरा नाम, जन्म, जन्म स्थल, राष्ट्रीयता, उपनाम, पिता का नाम, माता का नाम, भाई, बहन, धर्म, पत्नी, व्यवसाय, शैक्षणिक योग्यता, बेटा, बेटी तथा सफलता की कहानी को विस्तृत रूप से जानेंगे।

आपको जानकर हैरानी होगी की एक सर्वे के मुताबिक मुबंई जिसे हम सपनो की नगरी (मायानगरी मुंबई) भी कहते है, मुबंई में रोजाना लगभग 20,000 नए लोग आते है।

जाहिर सी बता है की इनमे से अधिकतर फ़िल्म जगत में अपना करियर बनाने और प्रसिद्धि हासिल करने के लिए ही आते है। मायानगरी में हर साल लाखों लोग अपना करियर बनाने और हीरो बनने के लिए आते है , लेकिन यहा इस भीड़ में केवल गिने -चुने शख्स ही मायानगरी और फिल्मी जगत में सफल हो पाते है।

जिनमे कुछ अलग तरह का हुनर और जज्बा होता है और ऐसे ही जूनून और जज्बे के साथ एक साधारण सा शख्स मुंबई आया था, जिसने आज पूरी दुनिया को अपने अभिनय (एक्टिंग) का दीवाना बना लिया है।

अक्षय कुमार का जीवन परिचय | Akshay Kumar Biography in Hindi

नामअक्षय कुमार
जन्म9 सितंबर 1967
जन्म स्थलअमृतसर पंजाब भारत
राष्ट्रीयताN/A
पूरा नामराजीव हरी ओम भाटिया
उपनामअक्की ,राजू , मेक , खिलाड़ी कुमार
पिता का नामहरिओम भाटिया
माता का नामअरुण भाटिया
भाईN/A
बहनआलिया भाटिया
धर्मपंजाबी , हिंदू
पत्नीट्विंकल खन्ना
व्यवसायअभिनेता फिल्म निर्माता
शैक्षणिक योग्यतास्नातक
बेटाआरव
बेटीनितारा

अक्षय कुमार का बचपन

हमारे फ़िल्म जगत के खिलाडी अक्षय कुमार का जन्म पंजाबियों के राज्य पंजाब के अमृतसर में हुआ था।

हम आपको बता दे की अक्षय कुमार का असली नाम राजीव भाटिया है। जो की उनका बचपन का नाम था। लेकिन अमृतसर में जन्म लेने के बाद ही अक्षय का परिवार दिल्ली आ गया। उन का बचपन दिल्ली के चन्दनी चौक की भीड़ – भाड़ वाली गलियों में ही बिता।

अपने बचपन से ही अक्षय तेज दिमाग के थे। वो अक्सर ही ब्रुसली और जुडो कराटे को पसंद करते थे। अक्षय कुमार जिनके पास आज किसी तरह की कमी नही है। लेकिन उनका बचपन भी असाधारण स्थितियों और सीमित संसाधनों में ही बीत गया।

चलिए हम आगे राजीव कुमार भाटिया उर्फ़ अक्षय कुमार की पढाई (शिक्षा) के बारे में जानते है।

अक्षय कुमार की शुरुआती शिक्षा

आपको तो पता ही होगा की अच्छे – अच्छे कलाकार हमारे खिलाडी अक्षय कुमार से एक्टिंग तथा करियर के गुर सीखते है। लेकिन ये बात सुनकर आपको विश्वास ही नही होगा की , जो व्यक्ति करोडो लोगो के आदर्श है तथा लांखो लोगो उनसे अपने करियर के लिए टिप्स मांगते नही थकते है।वो अक्षय कुमार सिर्फ 12 वी कक्षा तक ही पढ़े है।

अक्षय ने 12 वी कक्षा के बाद अपनी पढाई ही छोड़ दी थी, क्योकि अक्षय को पढाई – लिखाई में कुछ ख़ास रूचि नही थी इसलिए उन्होंने 12 वी तक पढने के बाद पढाई को अलविदा कहना ही ठीक समझा। लेकिन इसके बाद का सफर आसान बिलकुल न था , चलिए जानते है की पढाई छोड़ने के बाद अक्षय ने क्या किया।

अक्षय कुमार का शुरूआती स्ट्रगल

जैसे की अक्षय कुमार ने अपनी पढाई 12 वी के बाद छोड़ दी थी, इसलिए अब उनके उपर कुछ दूसरा करने और अकुच पैसे कमाने का भी दबाव बढ़ गया था। इसलिए अक्षय ने कुछ छोटे -मोटे काम करना शुरू कर दिए थे।

शुरू-शुरू में तो अक्षय अपना खुद का खर्च भी इन कामों से निकाल लिया करते थे। अक्षय कुमार तो बचपन से ही स्पोर्ट्स (खेलो) में काफी रूचि थी। फिर कहीं से अक्षय को जुडो – कराटे तथा मार्शल आर्ट्स का पता चला और इसके बाद अक्षय को यह स्पोर्ट बहुत ही अच्छा लगा था। तब तक अक्षय के परिवार के माली (आर्थिक) हालात भी कुछ अच्छे हो चुके थे। तब अक्षय मार्शल आर्ट्स की आगे की ट्रेनिंग लेने के लिए उन्होंने परिवार को माना लिया और वो बैंगकॉक चले गये।

अब अक्षय नयी जगह आ चुके थे, लेकिन यहा भी उनको पैसो की दिक्कत का सामना करना पडा। जिसकी वजह से उन्होंने वही बेंकोक में शेफ (बावर्ची) की नौकरी भी कर रहे थे और साथ ही साथ वो मार्शल आर्ट्स में निपुण होने की ट्रेनिंग भी ले रहे थे। उसके बाद अक्षय की मार्शल आर्ट्स की ट्रेनिगं पूरी होने के बाद अक्षय वापस कोलकाता आ गए।

फ़िल्म उद्योग तथा मॉडलिंग में एंट्री

अक्षय कुमार कोलकाता आने के बाद अक्षय कुंदन की ज्वेलरी का व्यापार करने लगे थे। लेकिन अक्षय अभी भी अपने जीवन में बगैर किसी लक्ष्य के काम किये जा रहे थे। अक्षय ने पैसे कमाने के लिए अपने इस काम के साथ ही साथ मुंबई में कुछ बच्चो को मार्शल आर्ट्स भी सिखाया करते थे।जिससे उनको कुछ पैसे वहा से भी मिल जाया करते थे ,.

जिससे उनको कुछ पैसे वहा से भी मिल जाया करते थे। एक दिन की बात है जब वही के एक मार्शल आर्ट्स सीखने आये लड़के ने अक्षय से कहा की आप मार्शल आर्ट्स भी जानते है और आपकी बॉडी भी काफी अच्छी है।

तब आपको मॉडलिंग में हाथ आजमाना चाहिए, तब अक्षय को यह बात बेहद पसंद आई। जिस लड़के ने अक्षय को मॉडलिंग करने का आयडिया दिया था , दरसल वो लड़का फोटोग्राफी में रूचि रखता था। इसलिए उसने अक्षय में कुछ ख़ास बाद देखते हुए अक्षय कुमार को मॉडलिंग करने की सलाह दी थी। उस लड़के ने अक्षय का नाम आगे मॉडलिंग प्रोजेक्ट के लिए भी दे दिया था, अब अक्षय कुमार की पर्सनालिटी तो शुरू से ही सभी को अपनी ओर आकर्षित करती थी।

इसलिए उन्हें मॉडलिंग करने के लिए चुन लिया गया। अक्षय ने लगातार दो दिनों तक मॉडलिंग की शूटिंग की जिसके बाद अक्षय को उस समय 20,000 हजार रुपये मिले।

यह उस समय अक्षय के लिए बहुत बड़ी रकम थी। उसके बाद से ही अक्षय ने इसी काम में अपना करियर बनाने का फैसला कर लिया था और इस तरह से अक्षय जो की ज्वेलरी बेचते थे तथा बच्चो को मार्शल आर्ट्स सीखाते थे, उनकी एंट्री फ़िल्म जगत में हो गई थी।

अक्षय कुमार के जीवन मुश्किल परिस्थितिया

एक बार जब अक्षय कुमार को मॉडलिंग के एक बड़े प्रोजेक्ट की शूटिंग करने के लिए बेंगलोर जाना था, तब अक्षय की फ्लाईट सुबह के सात बजे की थी।

लेकिन अक्षय को गलती से पता लगा की उन्ही फ्लाईट शाम के सात बजे की है। इस कारण से अक्षय बेंगलोर नही जा सके और उनके हाथ से मॉडलिंग का बहुत बड़ा प्रोजेक्ट निकल गया था। इस बात से अक्षय बहुत निराश भी हुए थे। लेकिन इस मुश्किल स्थिति में अक्षय के पिता ने उनको ढाढस बनाया और कहा की जो भी होता है उसमे उपर वाले की कुछ न कुछ मर्जी छुपी होती है। इस बात को कहते हुए अक्षय के पिता ने उन्हें हिम्मत दी।

चलिए अब आगे जानते है की किस तरह से अक्षय कुमार को अपनी पहली फ़िल्म मिली।

बॉलीवुड मूवी में रोल का मिलना

जैसा की अक्षय कुमार के हाथ से मोडलिंग का बहुत बड़ा प्रोजेक्ट निकल गया था , तब अक्षय ने हिम्मत न हारते हुए अपना पोर्टफोलियो निकाला और मुंबई में स्थित Natraj Studio के लिए चल दिए। वही नटराज स्टूडियो में प्रमोद जी के लिए काम करने वाले मेक – अप आर्टिस्ट (कलाकार) अक्षय से मिला और अक्षय ने उस मेकअप आर्टिस्ट को अपना पोर्टफोलियो दिया जो वो सीधा प्रमोद जी के पास ले गया।

जब प्रमोद जी ने अक्षय के फोटोज को देखा तो उन्हें अक्षय के फोटोज बहुत पसंद आये और उन्होंने अक्षय को अपने केबिन में बुलाया और अक्षय को एक फ़िल्म में छोटे से रोल का ऑफर दिया। अक्षय कुमार मरते भला का न करते, उन्होंने इस छोटे से रोल के लिए भी तुरंत हा कर दी। जिसके बाद, प्रमोद जी ने अक्षय को 5000 rs का सायनिंग अमाउंट दिया और कांट्रेक्ट साईन कर लिया।

अक्षय कुमार अक्सर ही इस अच्छी घटना को याद करते हुए कहते है –

हमारे लिए उपर वाला ही एक मंझे हुए स्क्रिप्ट राइटर की तरह हमारे जीवन को लिखता है और उसके द्वारा लिखी गयी स्टोरी हमेशा ही कमाल करती है।

अक्षय कुमार का जीवन परिचय
Image Source: twitter.com/AkshayKumar

राजीव भाटिया से अक्षय कुमार तक का सफर

इसके बाद अक्षय ने अपनी एक्टिंग कला को सुधारने के लिए एक छोटा सा एक्टिंग का कोर्स भी किया था। जिसके बाद अक्षय को एक फ़िल्म “आज ” में एक छोटा सा रोल भी मिला , फ़िल्म रिलीज होने के बाद अक्षय को पता चला की उस फ़िल्म में उनका रोल तो सिर्फ 7 सेकण्ड के लिए ही था।

लेकिन यहा अच्छी बात यह हुई की जिस फ़िल्म में अक्षय ने काम किया उस फ़िल्म के हीरो का नाम अक्षय था। तब हमारे खिलाडी कुमार को अक्षय नाम बहुत पसंद आया और उन्होंने अपना नाम राजीव भाटिया से अक्षय कुमार रख लिया था। आज जिन्हें हम अक्षय कुमार के नाम से जानते है असल में हमारे सबके चहेते खिलाडी का नाम राजीव भाटिया था।

बॉलीवुड में सफलता

अक्षय कुमार को अब फ़िल्म इंडस्ट्री में टिकने के लिए एक अच्छी फ़िल्म की आवश्यकता थी।

इसके बाद अक्षय को अपना सबसे बड़ा ब्रेक तब मिला जब साल 1991 में फ़िल्म “सौगंध” में मुख्य भूमिका में काम करने तथा अपना हुनर दिखाने का मौका मिला था।

इसके बाद अक्षय को उनकी दूसरी सफल फ़िल्म “खिलाडी” में काम करने का मौका मिला।

बस फिर इसके बाद क्या था अक्षय कुमार ने खिलाडी फ़िल्म से लोगो के नजरो में एक एक्शन हीरो और खिलाडी कुमार के रूप में लोगो के दिलो में जगह बना ली थी। इसी के साथ – साथ अक्षय आपने काम को पूरी लगन से किया और कभी पीछे मुडकर नही देखा और आज हम सभी को पता है।

अक्षय को चाहने वालो की संख्या करोडो में है और भारत के साथ – साथ उनके चाहने वाले विदेशो में भी है। अक्षय ने मात्र 20 से 22 सालो में अक्षय ने लगभग 130 से भी ज्यादा बेहतरीन फिल्मो में कम किया और बॉलीवुड में अपनी अलग ही खिलाडी कुमार की छवि बना ली।

अक्षय कुमार की कुछ हिट मूवीस

खिलाडी कुमार ने बहुत सी बेहतरीन फिल्मे दी है , जिन फिल्मो ने तथा अक्षय कुमार ने लोगो के दिलो -दिमाग पर एक अमिट सी छाप छोड़ी है।उनकी कुछ सुपरहिट फिल्मो के नाम है –

  • खिलाड़ी 1992
  • मोहरा 1994
  • धड़कन 2000
  • अंदाज 2003
  • फिर हेरा फेरी 2006
  • भूल भुलैया 2007
  • हाउसफुल 2010
  • रुस्तम 2016
  • टॉयलेट 2017
  • 2.0 2018
  • मिशन मंगल 2019
  • केसरी 2019
  • गुड न्यूज़ 2019

अक्षय कुमार की सफलता से हमे क्या से सीख मिलती है?

राजीव भाटिया उर्फ़ हमारे बॉलीवुड के खिलाडी अक्षय कुमार से हमे बहुत कुछ सीखने को मिलता है जैसे की किस तरह से कुछ न होते हुए भी बहुत कुछ हासिल किया जा सकता है। सफल होने के लिए हमें सिर्फ खुद की काबिलियत और क्षमताओ पर पूरा भरोसा होना चाहिए। अक्षय ने बॉलीवुड में सफल होकर यह साबित कर दिया की बगैर पारिवारिक सहायता के भी जीवन में बहुत कुछ हासिल किया जा सकता है।

खिलाडी कुमार अक्षय से हम यह भी सीख सकते है की जीवन की सभी परिस्थितियों में समय एक सा नही होता है। लेकिन हम अपना काम ईमानदारी और मेहनत के साथ करते चले जाए तो एक दिन सफलता निश्चित ही हमारे कदमो को चूमती है। हमें उम्मीद ही नही पूरा विश्वास भी है की आपको Akshay Kumar Biography in hindi तथा अक्षय कुमार का जीवन परिचय अवश्य ही पसंद आया होगा।

Share your love
अभिषेक प्रताप सिंह
अभिषेक प्रताप सिंह

राम-राम सभी को मेरा नाम अभिषेक प्रताप सिंह हैं, मैं मध्य प्रदेश का रहना वाला हूँ। हिन्दीअस्त्र पर मेरी भूमिका आप सभी तक ज्ञानवान और मजेदार आर्टिकल पहुंचाना है, ताकि आपको हर दिन नई जानकारी प्राप्त हो सके।

Articles: 63

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *