बच्चों के बारे में 40 चौंकाने वाले तथ्य!

बचपन! वो बेफिक्री का दौर जिसकी यादें हर किसी के चेहरे पर मुस्कान ला देती हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि बच्चों से जुड़ी कुछ ऐसी अनोखी बातें हैं, जिनके बारे में शायद ही कोई माता-पिता वाकिफ हों? जी हां, शोध बताते हैं कि बच्चों की दुनिया बड़ों से कहीं ज्यादा अद्भुत और रहस्यमयी है.

आपको यह जानकर हैरानी होगी कि नवजात शिशु दिन में औसतन 100 बार मुस्कुराते हैं, जबकि वयस्क मुश्कराने के मामले में उनसे काफी पीछे होते हैं। या फिर ये जानकर आपका दिमाग चकरा जाएगा कि बच्चों की हड्डियां इतनी लचीली होती हैं कि वो लगभग किसी भी अवस्था में मुड़ सकती हैं! ये तो बस बानगी भर है.

इस पोस्ट में, हम बच्चों के विकास और क्षमताओं से जुड़े ऐसे ही कुछ चौंकाने वाले और रोचक तथ्यों का खुलासा करेंगे, जिन्हें जानकर आप भी कहेंगे – “वाह! ये तो हमें नहीं पता था!”

नवजात शिशुओं से जुड़े कुछ अज्ञात तथ्य

  1. क्या आपने कभी सोचा है कि पूरी दुनिया में हर एक मिनट में कितने जन्म होते हैं? इसका उत्तर है 255। इसका मतलब हर सेकंड में 4.3 बच्चे।
  2. जब बच्चा पैदा होता है, तो उसके शरीर में एक भी बैक्टीरिया नहीं होता।
  3. नवजात शिशु अपने जन्म के कुछ हफ्तों तक सिर्फ ब्लैक और व्हाइट ही देख सकते हैं, कुछ हफ्तों बाद उनको सबसे पहला रंग दिखता है जो की लाल रंग होता है।
  4. मनोविज्ञानिक मानते हैं कि बच्चे अपने जन्म के कुछ सालों तक सपना नहीं देखते हैं।
  5. एक बच्चे में एक आदमी के मुकाबले 60 हड्डियाँ ज्यादा होती हैं।
  6. अमेरिका में हर साल 1 लाख बच्चे जन्म से ही कोकिन के आदी पैदा होते हैं क्योंकि उनकी माँ ने प्रेग्नेंसी के दौरान ड्रग्स लिया था।
  7. एक आदमी के मुकाबले बच्चे 3 गुना ज्यादा तरह के स्वाद चख सकते हैं।
  8. कई शोध बताते हैं कि समय से पहले होने वाले ज्यादातर बच्चे बाएं हाथ के होते हैं।
  9. चीन में हर 30 सेकंड में एक अपंग बच्चा पैदा होता है।
  10. जो महिलाएं अपनी प्रेग्नेंसी के दौरान खर्राटे लेती हैं, उनके बच्चे औरों की तुलना में छोटे होते हैं।
  11. अगर किसी महिला को प्रेग्नेंसी के दौरान किसी अंग को कोई हानि पहुंचती है तो गर्भाशय में पल रहा बच्चा उस अंग को ठीक करने के लिए स्टेम सेल्स भेजता हैं।
  12. 1838 से 1960 के बीच खींचे गए आधे से ज्यादा फोटो बच्चों के थे।
  13. 50,000 में से एक बच्चा ऐसा पैदा होता हैं जिसके जन्म से ही उसके गुर्दे नहीं होते।
  14. एक बच्चे की डॉक्टरों की दी हुई डेट पर पैदा होने की संभावना बस 4% होती हैं।
  15. जर्मनी, डेनमार्क, आइसलैंड व कुछ और देशों में बच्चों के नाम रखने के लिए कुछ नियमों का पालन करना पड़ता है।
  16. एक बच्चे का दिमाग बच्चे को दिए गए ग्लूकोज में से 50% ग्लूकोज का उपयोग कर लेता है, इसीलिए बच्चे इतना ज्यादा सोते हैं।
  17. Cochlear Ear Kiss Injury नाम की एक स्थिति है जो बताती है कि बच्चे के कान पर kiss करने से वह बहरा हो सकता है।
  18. एक नवजात शिशु में सिर्फ 1 कप खून होता है।
  19. बच्चे अपने जन्म के 5 महीने बाद ही अपने वजन में दोगुने हो जाते हैं।
  20. जब आप पैदा हुए थे, तो आपके चखने की इंद्रियाँ आपकी जीभ के साथ-साथ आपके मुंह के ऊपर, पीछे, और दोनों तरफ भी थीं।
  21. बच्चे अपनी जिंदगी के पहले तीन महीने तक अपने से 8 या 9 इंच की दूरी तक ही देख सकते हैं।
  22. जन्म लेने के 10 मिनट बाद बच्चे में इतना दिमाग का विकास हो जाता है कि वो ये समझ जाता है कि आवाज किस तरफ से आ रही है।
  23. हर तीन में से एक शिशु के शरीर पर जन्म से ही एक निशान होता है और लड़कियों में लड़कों की तुलना में ये निशान दोगुना होते है।
  24. शोध बताते हैं कि शारीरिक स्पर्श बच्चों के विकास के लिए बहुत ज़रूरी होता है। माता-पिता का स्पर्श उन्हें सुरक्षित और प्यार का एहसास दिलाता है, जिससे उनका शारीरिक और मानसिक विकास बेहतर तरीके से होता है।

बच्चों से जुड़े कुछ अनोखे रहस्य और रोचक तथ्य

  1. ये बात तो कम ही लोगों को पता होगी कि बच्चे माँ के गर्भ में ही भाषा सीखना शुरू कर देते हैं। वो अपनी माँ की आवाज़ को पहचान सकते हैं और आसपास की बातचीत को सुनकर भाषा की बारीकियों को समझने का प्रयास करते हैं।
  2. टेलीविजन देखना बच्चों के लिए दर्द की एक प्राकृतिक दवा हो सकती है।
  3. पिता अपने बच्चों की ऊचाई और माता उनके वजन पर अधिक ध्यान देती हैं।
  4. हर दिन 12 नवजन्म बच्चे किसी और माता-पिता को दिए जाते हैं।
  5. 7 महीने तक बच्चे एक ही समय में साँस ले सकते हैं और निगल सकते हैं, लेकिन हम ऐसा नहीं कर सकते।
  6. मिचिगन की एक महिला ने अपने बच्चों को 8/8/8, 9/9/9 और 10/10/10 को जन्म दिया।
  7. 1980 के बाद जुड़वा बच्चों के जन्म होने की संभावना 76% तक बढ़ गई है।
  8. अमेरिका में हर साल जितने बच्चे पैदा होते हैं, उससे ढाई गुना ज्यादा बार्बी डॉल बिकती है।
  9. गर्भ में सभी बच्चों के मूँछ बढ़ती है जो बाद में पूरे शरीर को ढकती है, और बच्चा बाद में इन हीं मुलायम बालों को खाता है, जिन्हें लानुगो कहते हैं, और इसके बाद सबसे पहले निकलने वाले मल के साथ निकाल देते हैं जिसे मेकोनियम कहते हैं।
  10. बच्चे इंसानी आवाज को पसंद करते हैं और यही कारण होता है कि वे सबसे पहले शब्दों का अनुसरण करते हैं, न कि एक फ़ोन के बजने की आवाज को।
  11. पहले छह महीने तक बच्चे अलग-अलग इंसानों और बंदरों के बीच का अंतर पहचान सकते हैं, लेकिन नौ महीने तक वे बंदरों के बीच का अंतर पहचानने की क्षमता खो देते हैं, पर इंसानों को पहचानने की क्षमता पूरी उम्र तक बनी रहती है।
  12. गर्भ में पल रहे बच्चा म्यूजिक सुनने पर अधिक प्रतिक्रिया करता है।
  13. आपने देखा होगा कि कभी-कभी छोटे बच्चे बहुत ज्यादा खुशी में भी रोने लगते हैं। ये किसी कमज़ोरी की नहीं बल्कि उनके मजबूत होते हुए भावनात्मक विकास का संकेत होता है। क्योंकि खुशी के अतिरेक को प्रकट करने के लिए उनके पास अभी शब्दों का सहारा नहीं होता।
  14. गर्भावस्था के 9 वें हफ्ते में बच्चे के जननांग बनने लगते हैं। 12 से 13 हफ्तों तक आसानी से पता लगाया जा सकता है कि गर्भ में पल रहा बच्चा लड़का है या लड़की।
  15. बच्चों को नकल करने की आदत भले ही आपको कभी-कभी परेशान करे, लेकिन ये दरअसल उनके सीखने का एक बेहतरीन तरीका है। वो अपने आसपास के लोगों को देखकर, उनकी हरकतों को दोहराकर न सिर्फ नई चीज़ें सीखते हैं बल्कि दुनिया को समझने का भी प्रयास करते हैं।
  16. एक 3 साल के बच्चे की आवाज 200 लोगों से भरे हुए एक रेस्टोरेंट में भी सबसे तेज होती है।

आज आपने क्या सीखा?

बच्चों की दुनिया वाकई कमाल की है, है ना? ये छोटे से प्राणी न सिर्फ अपनी मासूमियत से हमारा दिल जीत लेते हैं बल्कि अपनी अद्भुत क्षमताओं से हमें हर बार चौंकाते भी हैं. उम्मीद है इस लेख ने आपको बच्चों को थोड़ा और करीब से जानने में मदद की है. तो अगली बार जब आप किसी बच्चे को देखें, तो ज़रूर याद रखें कि उनके पीछे जिज्ञासा, सीखने की ललक और प्यार का एक पूरा संसार छुपा हुआ है!

मुझे उम्मीद है कि आपको ये जानकारी अच्छी लगी होगी। अगर आपको ये पोस्ट अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ ज्यादा से ज्यादा शेयर जरूर करें। आपके विचारों और प्रतिक्रियाओं के लिए धन्यवाद। अगली बार फिर मिलेंगे!!

Share your love
अभिषेक प्रताप सिंह

अभिषेक प्रताप सिंह

राम-राम सभी को मेरा नाम अभिषेक प्रताप सिंह हैं, मैं मध्य प्रदेश का रहना वाला हूँ। हिन्दीअस्त्र पर मेरी भूमिका आप सभी तक ज्ञानवान और मजेदार आर्टिकल पहुंचाना है, ताकि आपको हर दिन नई जानकारी प्राप्त हो सके।

Articles: 88

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *